Breaking News
Homeएजुकेशनजनता दर्शन के दौरान पुलिस की कार्यप्रणाली पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने...

जनता दर्शन के दौरान पुलिस की कार्यप्रणाली पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने जताई नाराजगी

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में हिन्दू सेवाश्रम में लगे जनता दर्शन में एक बाद एक थाने और चौकी में सुनवाई न किए जाने की शिकायतों सीएम योगी आदित्यनाथ ने पुलिस की कार्यप्रणाली पर नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने जनता दर्शन कार्यक्रम में मौजूद एसएसपी देवेंद्र कुमार प्रभु से पूछा कि आखिर थाने और पुलिस चौकियों में मामलों का निस्तारण क्यों नहीं किया जा रहा। यदि वही उनकी समस्याएं सुलझा ली जाती तो न्याय की आस में जनता दर्शन में आने की फरियादियों को आवश्यकता नहीं पड़ी। रविवार को सीएम योगी आदित्यनाथ जनता दर्शन कार्यक्रम में गोरखपुर और आसपास के जिलों से आए फरियादियों की समस्याएं सुन रहे थे।

उन्होंने एसएसपी से कहा कि स्थानीय स्तर पर मामलों को निस्तारण हर हाल में सुनिश्चित कराएं। ऐसा न करने वाले थानाध्यक्षों एवं चौकी इंचार्जो के खिलाफ सख्त कार्रवाई करें। लोगों की समस्याओं का निस्तारण तहसील एवं थाना दिवस पर किया जाएगा तो उन्हें दूर दराज से मुख्यमंत्री के जनता दर्शन का इंतजार नहीं करना पड़ेगा। जनता दर्शन में मुख्यमंत्री ने तकरीबन 100 लोगों की समस्याएं सुनी। ज्यादातर शिकायतें पुलिस में सुनवाई न किए जाने की थी। कुछ लोगों ने पुलिस द्वारा मुकदमा दर्ज न किए जाने की शिकायत की तो कुछ ने सुनवाई न होने का आरोप लगाया। जनता दर्शन कार्यक्रम में सीएम तकरीबन 45 मिनट तक मौजूद रहे। जनता दर्शन कार्यक्रम में डीएम के विजयेंद्र पांडियन, मण्डलायुक्त रवि कुमार एनजी, एसएसपी देवेंद्र कुमार प्रभु, सीडीओ इंद्रजीत सिंह, तहसीलदार सदर डॉ संजीव दीक्षित समेत काफी संख्या में प्रशासनिक अधिकारी भी मौजूद रहे।

सीएम के जनता दर्शन में इलाज के लिए आर्थिक मदद की मांग के लिए आए लोगों का हौसला बढ़ाया। उन्होंने कहा कि इस्टीमेट बना कर लाए। ताकि जिलाधिकारी कार्यालय से रिपोर्ट लगा कर उपचार के लिए जरूरी धनराशि उपलब्ध कराई जाए। ऐसे लोगों का सीएम ने हौसला भी बढ़ाया। कहा कि ऐसे मामले में सरकार संवेदनशील है, इस्टीमेंट पर आई रकम संबंधित अस्पताल के खाते में उपचार के लिए भेज दी जाएगी। मंदिर में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्वान कालू के बाद अपने नए मेहमान स्वान गुल्लू को काफी दुलारा पुचकारा। उसे बिस्किट खिलाया। गुल्लू डेढ़ माह का ब्लैक रंग का लेबराडोर है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने मंदिर परिसर के निर्माण कार्यो का जाएजा लेने के बाद गोशाला परिसर में भी तकरीबन 30 मिनट तक गोसेवा करते हुए गायों को गुड़ चना खिलाया। इसके पूर्व उन्होंने सुबह 5 बजे श्रीनाथ जी मंदिर में पूजन किया। अखण्ड ज्योति का दर्शन कर अपने ब्रह्मलीन महंत दिग्विजयनाथ एवं ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ की प्रतिमा पर पूजन कर शीश नवाया। मंदिर कार्यालय में गोरक्षपीठाधीश्वर कक्ष एवं लाल कक्ष में भी बैठक कर भाजपा और हिन्दू युवावाहिनी के कार्यकर्ताओं एवं शहर के नागरिकों से मुलाकात की।

spot_img
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_imgspot_img

Most Popular

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में हिन्दू सेवाश्रम में लगे जनता दर्शन में एक बाद एक थाने और चौकी में सुनवाई न किए जाने की शिकायतों सीएम योगी आदित्यनाथ ने पुलिस की कार्यप्रणाली पर नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने जनता दर्शन कार्यक्रम में मौजूद एसएसपी देवेंद्र कुमार प्रभु से पूछा कि आखिर थाने और पुलिस चौकियों में मामलों का निस्तारण क्यों नहीं किया जा रहा। यदि वही उनकी समस्याएं सुलझा ली जाती तो न्याय की आस में जनता दर्शन में आने की फरियादियों को आवश्यकता नहीं पड़ी। रविवार को सीएम योगी आदित्यनाथ जनता दर्शन कार्यक्रम में गोरखपुर और आसपास के जिलों से आए फरियादियों की समस्याएं सुन रहे थे। उन्होंने एसएसपी से कहा कि स्थानीय स्तर पर मामलों को निस्तारण हर हाल में सुनिश्चित कराएं। ऐसा न करने वाले थानाध्यक्षों एवं चौकी इंचार्जो के खिलाफ सख्त कार्रवाई करें। लोगों की समस्याओं का निस्तारण तहसील एवं थाना दिवस पर किया जाएगा तो उन्हें दूर दराज से मुख्यमंत्री के जनता दर्शन का इंतजार नहीं करना पड़ेगा। जनता दर्शन में मुख्यमंत्री ने तकरीबन 100 लोगों की समस्याएं सुनी। ज्यादातर शिकायतें पुलिस में सुनवाई न किए जाने की थी। कुछ लोगों ने पुलिस द्वारा मुकदमा दर्ज न किए जाने की शिकायत की तो कुछ ने सुनवाई न होने का आरोप लगाया। जनता दर्शन कार्यक्रम में सीएम तकरीबन 45 मिनट तक मौजूद रहे। जनता दर्शन कार्यक्रम में डीएम के विजयेंद्र पांडियन, मण्डलायुक्त रवि कुमार एनजी, एसएसपी देवेंद्र कुमार प्रभु, सीडीओ इंद्रजीत सिंह, तहसीलदार सदर डॉ संजीव दीक्षित समेत काफी संख्या में प्रशासनिक अधिकारी भी मौजूद रहे। सीएम के जनता दर्शन में इलाज के लिए आर्थिक मदद की मांग के लिए आए लोगों का हौसला बढ़ाया। उन्होंने कहा कि इस्टीमेट बना कर लाए। ताकि जिलाधिकारी कार्यालय से रिपोर्ट लगा कर उपचार के लिए जरूरी धनराशि उपलब्ध कराई जाए। ऐसे लोगों का सीएम ने हौसला भी बढ़ाया। कहा कि ऐसे मामले में सरकार संवेदनशील है, इस्टीमेंट पर आई रकम संबंधित अस्पताल के खाते में उपचार के लिए भेज दी जाएगी। मंदिर में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्वान कालू के बाद अपने नए मेहमान स्वान गुल्लू को काफी दुलारा पुचकारा। उसे बिस्किट खिलाया। गुल्लू डेढ़ माह का ब्लैक रंग का लेबराडोर है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने मंदिर परिसर के निर्माण कार्यो का जाएजा लेने के बाद गोशाला परिसर में भी तकरीबन 30 मिनट तक गोसेवा करते हुए गायों को गुड़ चना खिलाया। इसके पूर्व उन्होंने सुबह 5 बजे श्रीनाथ जी मंदिर में पूजन किया। अखण्ड ज्योति का दर्शन कर अपने ब्रह्मलीन महंत दिग्विजयनाथ एवं ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ की प्रतिमा पर पूजन कर शीश नवाया। मंदिर कार्यालय में गोरक्षपीठाधीश्वर कक्ष एवं लाल कक्ष में भी बैठक कर भाजपा और हिन्दू युवावाहिनी के कार्यकर्ताओं एवं शहर के नागरिकों से मुलाकात की।